Delhi Assembly में वित्त मंत्री Atishi ने पेश किया आर्थिक सर्वेक्षण,सुनिए क्या कहा?

अध्यक्ष महोदय इस इकोनॉमिक सर्वे में जब
हम दिल्ली के अर्थव्यवस्था के आंकड़े
देखने जाते हैं तो ये दिखता है कि जो

दिल्ली का जीएसडीपी है करंट प्राइसेस के
अनुसार

20222 में 1014 हज करोड़ था लेकिन एक
रिकॉर्ड

9.17 पर ग्रोथ दिखाकर 2023 24 में 11
करोड़ 7000 तक 7000 करोड़ तक पहुंच गया है
ये केजरीवाल सरकार की अचीवमेंट
है जब दिल्ली की इकॉनमी देश की इकॉनमी के

साथ 202122 में कोविड के दौरान कांट्रैक्ट
हुई थी तो दिल्ली ही एक इकलौता राज्य है
जिसने

202122 में % के रेट पर और 20222 में
7.85 के रेट पर रियल जीएसटीपी ग्रोथ

दिखाई
है जो पूरे देश में कहीं पर देखने को
मि अध्यक्ष महोदय दिल्ली में देश की 1 पर
आबादी रहती है लेकिन सिर्फ 1 पर आबादी
होने के बावजूद दिल्ली का देश के

जीडीपी
में 4 पर की हिस्सेदारी है यह है
केजरीवाल ना सिर्फ इतना अगर हम पिछले दो
साल के आंकड़े देखने जाएं तो 202122

में
दिल्ली के लोगों की प्रति व्यक्ति आए
3700 हज की आसपास थी और मात्र दो साल में
दिल्ली के लोगों की प्रति व्यक्ति आए 4

61000 पर पहुंच गई है यानी 2 साल में 22
पर बड़ी है

Leave a Comment