Haqiqat Kya Hai: आज देश ने देखा 2024 का पहला ट्रेलर..मई में पूरी पिक्चर | Congress | 370 Seats | BJP

नमस्कार आप देख रहे हैं हकीकत क्या है मैं
हूं आपके साथ प्रिया सिंह सोमवंशी नरेंद्र
मोदी को डराना नामुमकिन है हिंदुस्तान के
मुसलमानों को भी यही यकीन है नरेंद्र मोदी
के खिलाफ हिंदुस्तान के मुसलमानों को

डराने वाला कारोबार साल 2002 से साल 2024
तक चल रहा है आज नरेंद्र मोदी ने डराने 4
इस दुकान पर ताला लगा दिया आज हिंदुस्तान
के मुसलमानों ने कश्मीर से एक ट्रेलर देखा

है और मई के महीने में जब रिजल्ट आएगा तो
आपको पूरी पिक्चर दिखेगी कश्मीर वही जगह
है जहां पर 100 में से एक ही मुसलमान
बमुश्किल मोदी को वोट देता है और आज उसी
कश्मीर में जब नरेंद्र मोदी पहुंचे तो

मुसलमानों ने मोदी मोदी के नारे लगाए भारत
माता की जय की गूंज सुनाई दी चुनाव से
पहले हवा कैसे बदलती है फि कैसे बदलती है
नरेंद्र मोदी ने आज मिशन इंपॉसिबल को
पॉसिबल कर दिया है 370 सच में नरेंद्र

मोदी का लकी नंबर भी है और मैजिक नंबर भी
बाकी बात इस रिपोर्ट में
समझिए
176 दिन पहले

2444 मिनट पहले मोदी ने बहुत बड़ा रिस्क
लिया बहुत सही रिस्क लिया
नरेंद्र मोदी का वो रिस्क 2024 में एनडीए
को 400 से ज्यादा सीटें दिला देगा मोदी की
हैट्रिक बना देगा आखिर क्या है मोदी का वह
रिस्क 5 अगस्त 2019 को मोदी ने कश्मीर

घाटी से 370 हटाया 7 मार्च 2024 को उसी
कश्मीर घाटी ने मोदी की पार्टी को 370
सीटों का प्रॉमिस दे
दिया भारतीय जनता पार्टी के खाते में डाल
के अब तो यहां प कमल भी खेल गया सिर्फ और
सिर्फ मोदी जी है तो मुमकिन
है हम चाहते हैं कि जो हमारा वजीर आजम
हिंद है नरेंद्र मोदी जी इसकी सरकार

बार-बार हिंदुस्तान में आए आज की बार 400
बार मोदी है तो हम है हम इससे जान से भी
ज्यादा प्यार करते हैं इस इस इस जंडे से
मैं सलूट करता हूं पर्सनली नरेंद्र मोदी
जी साहब को मोदी मोद हर हर मोदी मद श्री
नरेंद्र मोदी बाय जिंदाबाद श्री नरेंद्र
मोदी बाय

जिंदाबाद 370 हटने के बाद मोदी को डराने
की कोशिश हुई धमकाने की कोशिश हुई झुकाने
की कोशिश
हुई क्या क्या नहीं कहा गया मोदी 10 बार
भी पीएम बन जाए तो भी धारा 370 नहीं हटा
सकते फारूख अब्दुल्ला ने यह तक
बोला 370 वापस लाओ नहीं तो कश्मीर छिन
जाएगा हिंदुस्तान से टूट जाएगा महबूबा
मुफ्ती ने यह डर तक

दिखाया राहुल ने यह कह कह कर उकसाया कि
370 मत हटाओ नहीं तो कश्मीर में खून की
नदियां बह

जाएंगी इंटरनेशनल हेडलाइन बना दी गई
कश्मीर में ब्लड बाथ की स्क्रिप्ट लिख दी
गई

उमर अब्दुल्ला ने तो यह तक लिख डाला कि या
तो जम्मू कश्मीर भारत का हिस्सा नहीं
रहेगा या फिर आर्टिकल 370 एजिस्ट
करेगा तरह-तरह के प्रोपेगेंडा फैलाए गए
कांग्रेस के नेताओं ने तो पाकिस्तान के
फेवर वाली बातें तक कहीं कश्मीर से धारा
370 ना हटाने की वकालत तक

की 370 एक ऐसा मसला था जब हिंदुस्तान में
बैठी मोदी विरोधी पार्टियों और पाकिस्तान
में बैठी भारत विरोधी पार्टियों की भाषा
भी एक जैसी हुआ करती

थी मोदी को हराने के लिए मोदी को हटाने के
लिए पूरे 55 महीनों तक पूरे 239 हफ्तों तक
आर्टिकल 370 के पीछे छिपकर सीरियल अटैक
किए गए

instagram2 के खिलाफ एजेंडा चलाया गया
एंटी मोदी नैरेटिव फैलाया गया
ि मोदी बनोगे मोदी ब लेकिन मोदी नहीं झुके
मोदी नहीं डरे नतीजा देख लीजिए जिंदाबाद
हिंदुस्तान

जिंदाबाद आज कश्मीर घाटी में फारूख
अब्दुल्ला नहीं उमर अब्दुल्ला नहीं
कांग्रेस के किसी नेता के लिए नहीं मोदी
के लिए भीड़ जुट रही

है घाटी के लोग राहुल का नहीं मोदी का
मास्क पहने घूम रहे
हैं मोदी उनके दिल में बस

चुके मैं यह मेहनत आपका दिल जीतने के लिए
कर रहा हूं और मैं दिनों दिन देख रहा हूं
कि मैं आपका दिल जीतने की दिशा में सही
दिशा में जा रहा हूं आपका दिल में जीत
पाया हूं और ज्यादा जीतने की कोशिश मेरी
जारी

रहेगी और यह मोदी की गारंटी
है घाटी में मोदी के क्रेस का लेवल देखना
और समझना है तो यह वीडियो देखिए यह
कश्मीरी शख्स प्रधानमंत्री मोदी पर नहीं
मोदी के कटआउट को उनी कपड़े पहना रहा है
ताकि उस कटआउट को ठंड ना लग
जाए मो है मुमकिन है मो है मुमकिन

है जिबा सोचिए 35000 की कैपेसिटी वाले
स्टेडियम में को सुनने के लिए मोदी को
देखने के लिए दो लाख से ज्यादा की भीड़
उमड़ पड़ी

म स्टेडियम छोटा पड़ गया बावजूद इसके
25000 एक्स्ट्रा कुर्सिया लगानी पड़ी
कल्पना कीजिए कि अगर मोदी ना होते तो क्या
कश्मीर ऐसा होता कश्मीर ऐसा
दिखता भारतीय जनता पार्टी
जिंदाबाद हने कितना बदल गया है इस तस्वीर
में उसकी पूरी कहानी

है क्योंकि जिस घाटी में पहले पाकिस्तान
जिंदाबाद का नारा लगता था अब उसी घाटी में
मेरा भारत महान का पोस्टर दिखता
है यह 19 से पहले वाला नहीं 19 के बाद
वाला कश्मीर है जहां लोग मोदी के नाम पर
खींचे चले आते हैं वो उमर अब्दुल्ला फारूख
अब्दुल्ला या महबूबा मुफ्ती नहीं मोदी को
ही चाहते हैं मोदी जैसा ही बनना चाहते

हैं बनोगे कांग्रेस बनोगे नरेंद्र मोदी
बनोगे नरेंद्र मोदी बनोगे मोदी बनोगे हा
मोदी बनोगे मोदी बनोगे तानाशाही प्राइम
मिनिस्टर श्री नरेंद्र मोदी साहब ने यहां
से खत्म कर दिया वजीर आजम ही नरेंद्र मोदी
जी ने कश्मीर के लोगों का दिल जीता है

कश्मीर के आवाम के दिल में आज वजीर आजम ही
नरेंद्र मोदी जी बस रहे हैं
यह जो यहां पे पॉलिटिकल पार्टियां थी यह
आवाम को गुमराह करते थे सता आने के लिए
वजीर आजम हिंद नरेंद्र मोदी जी ने 370

खत्म करके यहां हमारे नौजवानों को बचाया
और वजीर आजम हिंद नरेंद्र मोदी जब से
सरकार में आए हैं कश्मीर के नौजवान बच
चुके हैं यह वजीर आजम हिंद नरेंद्र मोदी

जी ने मुमकिन किया है यह पहली बार आपने
देखा होगा सालों के बाद किसी वजीर आजम
हिंद के लिए इतने लोग जमा हुए हैं और वजीर
आजम हिंद नरेंद्र मोदी जी हर एक दिल में
बस रहे हैं मजहबी प्ले कार्ड चलाते थे

नेशनल कॉन्फ्रेंस पीडीपी कांग्रेस
इन्होंने आज तक वोटों के लिए राजनीति की
है यह पहली बार हुआ वजीर आजम हिंद नरेंद्र
मोदी जी ने इस देश को बचाने के लिए
राजनीति की है इस कश्मीर को जो कश्मीर हाथ
से चला गया था इस कश्मीर को वापस लाने का
काम अगर किसी ने किया वह वजीर आजम हिंद

नरेंद्र मोदी जी ने किया
है घाटी के लोग अब खुलकर कह रहे हैं कि
नेशनल कॉन्फ्रेंस पीडीपी और कांग्रेस जैसी
पार्टियों ने कश्मीर घाटी में सालों साल
तक सिर्फ कब्रिस्तान को आबाद किया लेकिन

मोदी ने जब से दिल्ली में कुर्सी संभाली
है तब से लेकर अब तक मोदी ने घाटी के
लोगों को आबाद किया कश्मीर को आबाद किया
और इसका सबसे बड़ा असर धारा 370 के खात्मे
के बाद कैसे हुआ यह समझने से पहले 2019 के
कुछ आंकड़े

देखिए जम्मूकश्मीर की बारामूला सीट पर 19
के चुनाव में बीजेपी छठे नंबर पर थी तब
बीजेपी कैंडिडेट को सिर्फ 7894 वोट मिले
यानी सिर्फ 1.7 प्र वोट शेयर इसी तरह
श्रीनगर लोकसभा सीट पर 19 के चुनाव में
बीजेपी चौथे नंबर पर थी तब बीजेपी के
कैंडिडेट को सिर्फ 4631 वोट मिले यानी
सिर्फ % वोट शेयर अनंतनाग सीट पर भी
बीजेपी चौथे नंबर की पार्टी रही 19 में
यहां से बीजेपी के कैंडिडेट को 10225 वोट
मिले वोट शेयर 8.2 पर रहा घाटी की इन
तीनों ही सीटों पर फारुख अब्दुल्ला की

पार्टी जेके एनसी को जीत
मिली मगर इसके बाद मोदी ने 5 अगस्त 2019
को धारा 370 का अंत किया और कश्मीर का
पूरा मूड बदल
गया उस मूड को आज की इस तस्वीर में देखिए
कश्मीर की बेटियों के हाथ में मोदी के
पोस्टर्स
है कश्मीर के बुजुर्ग मोदी मैं हो रखे
हैं मोदी के घाटी पहुंचने से पहले अखबारों

में टेरर अटैक की खबरें नहीं छपती होप और
प्रोग्रेस वाली हेडलाइन बनती है और यह

लिखता भी एक कश्मीरी ही
है और मोदी जब घाटी में अपने लोगों के बीच
पहुंचते हैं तो पब्लिक का रिएक्शन देखकर
समझ में आता है कि मोदी ने उधर 370 हटाया
इधर कश्मीर ने 24 में मोदी को 370 सीट
देने का वादा कर डाला घाटी की दूसरी
पार्टियों को अबकी बार दरकिनार कर
डाला बंदी सों से यह आजादी आर्टिकल 370
हटने के बाद आई है दशकों तक सियासी फायदे
के लिए कांग्रेस और उसके साथियों ने 370
के नाम पर जम्मू कश्मीर के लोगों को
गुमराह किया देश को गुमराह किया 370 से

फायदा जम्मू कश्मीर को
था
या कुछ राजनीतिक
परिवार वही इसका लाभ उठा रहे
थे जम्मू कश्मीर की
आवाम यह सच्चाई जान चुकी है कि उनको
गुमराह किया गया था कुछ परिवारों के फायदे
के लिए जम्मू कश्मीर को जंजीरों में जकड़
दिया गया था आज 3 नहीं है इसलिए जम्मू

कश्मीर के युवाओ की प्रतिभा का पूरा
सम्मान हो रहा उन्हें नए अवसर मिल रहे
हैं यह वो नया जम्मू कश्मीर
है जिसका
इंतजार हम सभी को
कई दशकों से
था यह वह नया जम्मू कश्मीर है जिसके लिए

डॉक्टर श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने बलिदान
दिया था इस नए जम्मू कश्मीर की आंखों में
भविष्य की चमक
है इस नए जम्मू कश्मीर के इरादों में
चुनौतियों को पार करने का हौसला
है आपके इन मुस्कुराते
चेहरे देश देख रहा है और आज 140 करोड़
देशवासी सुकून महसूस कर रहे

हैं ु 2019 के चुनाव में जब पूरे देश में
मोदी की लहर थी तब बीजेपी कश्मीर घाटी के
वोटर्स का दिल जीतने से कोसों दूर
थी उस वक्त बारामुला के 100 में से सिर्फ
एक मुसलमान ने मोदी की पार्टी को वोट दिया

श्रीनगर में 100 में से सिर्फ दो
मुसलमानों ने मोदी को को वोट दिया अनंतनाग
में 100 में से सिर्फ आठ मुस्लिम ने मोदी
को वोट
दिया

हैद मोदी यह वोट बढ़ा सकते थे अगर
उन्होंने 19 के चुनाव से पहले ही कश्मीर
से धारा 370 का अंत कर दिया होता लेकिन तब
मोदी ने ऐसा नहीं किया मोदी ने 19 के

चुनाव के बाद यह रिस्क लिया कह दिया कि अब
घाटी से 370 हटा दो मोदी ने उस वक्त यह 24
को ध्यान में रखकर
किया

जिंदाबाद और आज की तारीख में मोदी कश्मीर
घाटी में 1 पर से सीधे 67 पर पर पहुंच गए
हैं बीजेपी 370 सीटों के बेहद करीब
पहुंचती दिख रही है और यह तब होता है जब
आप रिस्क लेते हैं मोदी ने वो रिस्क लिया
और इसका नतीजा 24 में कैसा दिखेगा यह आपको
इंडिया टीवी सीएन एक का सर्वे देखकर समझ
में आ
जाएगा सर्वे में घाटी के लोगों से पूछा

गया कि क्या आप धारा 370 हटाए जा जाने से
खुश है या नाखुश हैं इसके जवाब में 67 पर
लोगों की राय है कि हम खुश हैं सिर्फ 28
पर नाखुश है 5 पर ने कुछ नहीं कहा सर्वे
का दूसरा सवाल था कि क्या आर्टिकल 370
हटने से जम्मू कश्मीर को फायदा हुआ है अगर
हां तो कितना इसके जवाब में 70 पर की
लोगों की राय है कि 370 के खात्मे से बहुत
फायदा हुआ है 23 प्र की राय है कि कोई
फायदा नहीं हुआ 7 पर ने कुछ नहीं
कहा यानी घाटी का एक बड़ा तबका मोदी के
उठाए कदम से खुश है और यह खुशी उस वक्त
दिखती है जब कश्मीर का कोई मुसलमान मोदी
टोपी पहनकर मोदी मास्क पहनकर प्रधानमंत्री
की रैली में आता
है बीजेपी के फेवर में यह बदलाव तब दिखता
है जब घाटी के मुसलमान बीजेपी का पोस्टल
लेकर सड़कों पर निकलते
हैं मोदी के आने की खुशी में बीच सड़क पर
ढोल नगाड़े बजाते हैं जश्न मनाते हैं
भारतीय जनता पार्टी जिंदाबाद
[संगीत]
हाथ में पाकिस्तान नहीं मेरा भारत महान
वाला पोस्टर लहराते
हैं और जब कैमरे पर आते हैं तो मोदी मोदी
का ही नारा लगाते हैं उमर अब्दुल्ला फारूख
अब्दुल्ला कांग्रेस का कच्चा चिट्ठा खोलते
हैं मोदी ने एक रिस्क लेकर घाटी में यह
बदला है अबकी बार बीजेपी को बड़ा मौका दे
दिया है उमर अब्दुल्ला का स्टेटमेंट में
कल रात को पढ़ रहा था कि उन्होंने जोर
जबरदस्ती से यहां पर यूथ को बला है यहां
पर आवाम को बुलाया मैं उसको आपके जरिए से
यह मैसेज देना चाहता हूं ना हमें किसी ने
पैसे दिए ना हमें किसी ने जबरदस्ती की हम
अपने दिल की खुशी से आए नरेंद्र मोदी जी
का इस्तकबाल करने सरकार थी चाहे एनसी चाहे
पीडीपी चाहे कांग्रेस उन्होंने खाली हमारे
कब्रिस्तान को आबाद किया और हमारे नरेंद्र
भाई मोदी ने कश्मीर को आबाद किया पूरे
हिंदुस्तान को आबाद किया उन्होने
कब्रिस्तान को आबाद किया पहले की सरकार
पहले की सरकारों ने कब्रिस्तान को आबाद
किया और हिंदुस्तान की श्री नरेंद्र मोदी
ने पूरे हिंदुस्तान को आबाद किया यह सबसे
बड़ी डेवलपमेंट है और बदलाव है और इससे
आगे और बदलाव क्या हो सकता है आज हम खुश
है 2014 से मोदी जी की सरकार जब आई
कश्मीरियों ने सीखा कि हम हिंदुस्तानी है
और हिंदुस्तान हमारा है हमारे दिमाग में
हमारे दिल में सिर्फ एक ही बात बते थे
स्टो पेल्टिंग स्टोन पेल्टिंग इनके दिमाग
में होता था वोट और स्टो पेल्टिंग आज हम
खुश है 2014 से हम दिल से आए हैं हमको
किसी ने पैसे नहीं दिए हम इससे जान से भी
ज्यादा प्यार करता है इस इस इस झंडे से और
मोदी जी जब तक है तब तक जितना भी कश्मीरी
यूथ है उसके साथ है अगर एनसी को हम सामने
लाए एनसी मुझे 10 काम गने उन्होंने क्या
किया उन्होंने बस एक किया बस हम कब कब्रों
में दफन हो जाए एक दूसरे ने उ उनको मारा
आज हम इतने खुश है जब तक नरेंद्र मोदी जी
की सरकार है और जब तक नरेंद्र मोदी जी य
इस कश्मीर को उसने जब से हाथ में लिया है
कश्मीर आज इतिहास g20 यहां पर हमको कोई
पूछने वाला नहीं था g20 यहां पर हो गया
हमारे यहां पर कोई मीटिंग नहीं हो रही थी
सिर्फ बोलते थे ये टेररिस्ट कश्मीर है आज
टेररिज्म कश्मीर मोदी जी ने इसको बनाया आज
वो दौर है वो टाइम है ना कोई पथराव है ना
कोई लड़ाई है ना कहीं धमाके हो रहे हैं
पहले आप खुद हफ्ते में सात दिन होते हैं
सात दिनों में तो सात के सातों दिन कहीं
ना कहीं कुछ लोग मरते थे धमाके होते थे आज
वो चीज बिल्कुल भी नहीं है आप खुद देख
लीजिए कि कश्मीर में कितना बदलाव आया है
यहां के सियासत दन थे
यह उन्हीं की देन थी लोगों को उकसाना
लोगों में जो है रूल एंड डिवाइड व जो
अंग्रेजों की पलिसी थी वही अपना रहे थे
यहां की रीजनल पार्टी के सियासत दन
कांग्रेस और आज आम आदमी जो है आम व्यक्ति
जो है उसको समझ आ रहा है के जो डेमोक्रेसी
है जम्हूरियत है वाकी जम्हूरियत जो है आज
लोगों को नजर आ रही है जो मोदी जी ने नारा
दिया था जब व प्राइम मिनिस्टर बने थे सबका
साथ सबका सबका प्रयास और वो आज नजर आ रहा
है कश्मीर घाटी में मोदी की इस आउटरीच का
मोदी की इस अपील का सीधा फायदा 2024 के
चुनाव में होगा और नोट कर लीजिए सिर्फ
कश्मीर में नहीं यह मैसेज हिंदुस्तान के
हर मुस्लिम मोहल्ले तक फैले जो मुसलमान
मोदी से दूर दूर रहते हैं वह भी करीब आना
शुरू कर देंगे यह कैसे होगा समझने के लिए
इंडिया टीवी सीएन एक के सर्वे का कुछ और
डाटा देखिए सर्वे में जब लोगों से पूछा
गया कि धारा 370 के हटाए जाने का बीजेपी
को कितना फायदा होगा इसके जवाब में 74 पर
की राय थी कि बहुत फायदा होगा घाटी के 69
पर लोग मान रहे हैं कि आर्टिकल 370 हटाए
जाने के बाद जम्मू कश्मीर में विकास का
काम तेजी से हुआ है 73 प्र लोगों की राय
है कि धारा 370 के हटने के बाद कश्मीर में
आतंकी वारदातों में कमी आई
है मोदी ने इस बार कश्मीर जाकर पाकिस्तान
का जिक्र तक नहीं किया सिर्फ भारत की बात
की कश्मीरियों की और कश्मीरियत की बात की
मोदी से पहले घाटी के दूसरे सियासत दानों
ने सिर्फ नेगेटिविटी पर फोकस किया मोदी
पॉजिटिविटी लेकर कश्मीर की तस्वीर बदल रहे
हैं देश के बाकी हिस्सों की तरह कश्मीर के
लोगों को भी अपना परिवार बता रहे हैं और
यह बात खुलकर कह रहे हैं साथियों आजादी के
बाद जम्मू
कश्मीर परिवार वादी राजनीति का सबसे
प्रमुख शिकार हुआ
था आज देश के विकास से परेशान
होकर जम्मू कश्मीर के विकास से परेशान
होकर परिवार वादी लोग मुझ पर व्यक्तिगत
हमले कर रहे हैं यह लोग कह रहे हैं कि
मोदी का कोई परिवार नहीं है लेकिन
इन्हें देश इनको करारा जवाब दे रहा है देश
के लोग हर कोने में कह रहे हैं मैं हूं
मोदी का का
परिवार मैं हूं मोदी का परिवार मैंने
जम्मू कश्मीर को भी हमेशा अपना परिवार
माना है परिवार के लोग दिल में रहते हैं
मन में रहते हैं इसलिए कश्मीरियों के दिल
में भी यही है कि मैं हूं मोदी का परिवार
मैं हूं मोदी का परिवार मोदी अपने परिवार
को य विश्वास देकर जा रहा है कि जम्मू
कश्मीर के विकास का य
अभियान किसी कीमत पर नहीं
रुकेगा मोदी जिस परिवार की बात करते हैं
उस परिवार के सदस्य घंटों घंटों तक कई
किलोमीटर दूर लाइन में खड़े होकर मोदी को
देखने का मोदी को सुनने का इंतजार करते
हैं आठवीं क्लास में पढ़ने वाली साहिबा और
16 में नाम की इन बच्चियों को सुन लीजिए
यह मोदी पर क्या कह रही हैं और मोदी के
विरोधियों को 24 के लिए क्या मैसेज दे रही
हैं पहली बार मैं से ऐसे मिलने जा रही हूं
मैं बहुत खुश हूं कि मैं उनसे मिलने जा
रही हूं मतलब मैं बहुत इंस्पायर भी हूं
उनसे उन्होंने जितना लड़कियों के लिए कि
आज किसी ने नहीं किया उन्होंने कश्मीर में
डेवलपमेंट लाई तो अगर मैं चाहती हूं आगे
भी उन्हीं की सरकार रहे जब तक है मतलब तब
तक अभी रहे उनकी सरकार उन्होंने अपना
घरबार छोड़ा दूसरों की फैमिली के लिए तो
मैं उनसे हर चीज से इंस्पायर हूं जो
पॉलिटिकल लीडर है अपोजिशन वाले वो ये कहते
हैं कि इनके पास फैमिली ही नहीं है लिए तो
हम सब है इनकी फैमिली इन्होंने हमारे लिए
जितना किया उतनी कोई फैमिली नहीं करते
अपने घर वाले उतना नहीं करते जितना
इन्होंने किया हम आपको बहुत ज्यादा
रिस्पेक्ट करते हैं और हम चाहते हैं कि आप
बारबार अपनी लीडरशिप बनाए रखे यहां पे एंड
वी रियली रिस्पेक्ट यू अपोजिशन के कुछ
लीडर उन पर बहुत अटैक करते हैं आप लोग इसे
कैसे देखते
हो एक तरह से देखा जाए तो देखिए जो
अपोजिशन लीडर उन पर अटैक करते हैं वो उसके
अलावा कुछ और कर भी नहीं सकते हैं मतलब वो
उन देखिए ना कोई हमारे चाहे स्कूल्स में
भी ये हो तो जो सामने वाला होता है ना वो
जब जेलस होता है ना तब जाके वो अटैक करता
है उन परे वो सोचता है या ये काम हमें
करना चाहिए था किया नहीं अब इन्होने किया
तो अब इनको डिमोलिश करना पड़ेगा तो वो हम
ऐसे लेते नहीं कि टड की तरफ से लेंगे नहीं
क्योंकि वैसा कुछ ऐसा होता नहीं है बट हा
हम ऐसे लेते कि ये जेलस हो गए हैं इनसे
इनको लग रहा है कि इनसे नहीं हो पा रहा ये
जो कर रहे हैं इस लेवल तक हम जा नहीं पा
रहे लोग इनको बहुत ज्यादा सपोर्ट कर रहे
उतना हमें कर नहीं रहे तो वो उस चीज को
फिर समझ नहीं आता कि हम कैसे क्या करें इन
पर कैसे अटैक करें तो जो उनको करना पड़ता
है वो कर लेते हैं फिर आलम ये हो जाता है
लोग कहते हैं कि उनके पास तो फैमिली ही
नहीं है जी वो तो पता है कि वो बोलते है
इनके पास ऐसे नहीं है इसके अलावा भी काफी
लोग है जो बहुत कुछ बोलते हैं लेकिन लोगों
का काम है बोलना वो बोलेंगे ये चाहे ये
अपनी तरफ से जितना अच्छा कर रहे हैं लोग
वो भी देख रहे हैं हा अब जो इनके बारे में
बुरा बोल रहे हैं या गलत बोल रहे हैं वो
शायद वो चीजें नहीं देख रहे जो इन्होंने
किए हैं कश्मीरियों के दिल पर राज करते
हैं पीएम मोदी जी बिल्कुल करते हैं तभी तो
आप देख रहे हैं कितनी भीड़ है यहां पे
कितने सारे लोग आए
हैं अगर आज पूरे कश्मीर में पूरे
हिंदुस्तान में पीएम मोदी टॉप ट्रेंडिंग
है तो वो यूं ही नहीं है अगर कश्मीर का
यूथ सोशल मीडिया पर # वाय मोदी के साथ
घाटी को यह मैसेज दे रहा है कि कश्मीर के
लिए मोदी क्यों जरूरी हैं तो वो यूं ही
नहीं है इसके पीछे मोदी की अथक मेहनत है
मोदी का अथक प्रयास है जिसने कश्मीर को भी
एक नई पहचान दी और कश्मीरियों को भी यह
भरोसा दिया कि जब तक मोदी हैं तब तक
कश्मीर की ग्रोथ स्टोरी नहीं रुकेगी वह
यूं ही तेजी से आगे बढ़ती रहेगी धारा 370
के खात्मे के बाद मोदी विरोधियों ने कोशिश
तो खूब की कि मोदी के खिलाफ फाल्स नैरेटिव
बना दो मोदी को कमजोर बना दो मगर हुआ
बिल्कुल
उल्टा देश में भी मोदी की लोकप्रियता बढ़ी
और कश्मीर घाटी में भी मोदी पॉपुलर हो गए
इंडिया टीवी सीएन एक के सर्वे में जब
जम्मू कश्मीर के लोगों से यह पूछा गया कि
जेएन के में सबसे पॉपुलर नेता कौन है तो
देख लीजिए 52 पर ने मोदी का नाम लिया 7
प्र ने राहुल का जिक्र किया 23 ने फारूक
अब्दुल्ला को पॉपुलर बताया 9 पर ने महबूबा
मुफ्ती चार ने गुलाम नबी आजाद का नाम लिया
तो 5 पर ने अन्य का जिक्र किया और मोदी की
यह पॉपुलर उस वक्त दिखती है जब
प्रधानमंत्री पुलवामा के नाजिम नजीर से
बात
और नाजम मोदी के सामने एक रिक्वेस्ट करता
है नाजम जी जी जी सर किस तर बताइए हा नाजम
मेरा नाम नाजिम नजीर है मैं पुलवामा के
सामुरा गांव का रहने वाला हूं मेरी जर्नी
स्टार्ट हुई 2018 में मैंने अपने घर के छत
पर दो मधुमक्खी के बक्से रखे थे और मैं उस
टाइम पर दवी जमात में पढ़ता था मैं अक्सर
स्कूल से आके छत के ऊपर जाता था और उनका
कियर करता था धीरे-धीरे करके मैंने
इंटरनेट पर जाके उनके बारे में पढ़ा और जब
2018 पास हुआ 2019 में मैं मैंने सोचा कि
इन दो बक्स को में कैसे बढ़ाऊ तो मैं
सरकार के पास गया मुझे उस टाइम पर 50 पर
की सब्सिडी पर मुझे 25 बॉक्स मिले और 25
बॉक्स मिलने के बाद मैंने पहली उससे
एक्सट्रैक्शन की ऑलमोस्ट 75
केजी जब मैंने वह 75 केजी एक्स्टेक्स्ट
किए मैं उस टाइम पर इतना डेवलप नहीं था
मैं अपना शहद ड्यू बोतल में भरके गांव में
भेजता था उस टाइम पर मेरी पहली आमदनी थी
0000 जिस टाइम पर मुझे ये 0000 मिले मेरे
घर वाले भी बहुत खुश हो गए मैं भी
मोटिवेशन से फुल ऑफ पावर हो गया कि मुझे
00 मिले और धीरे-धीरे करके यह सफर मैंने
सर आगे लिया और धीरे-धीरे करके मैंने 200
बॉक्स अपना कायम किए 2023 में 5000 केजी
शहद बिके
है और धीरे धीरे करके सफर आगे बढ़ा सर
स्वीट रिवोल्यूशन
हमने ग्रीन रिवोल्यूशन सुना है हमने वाइट
रिवोल्यूशन सुना है आज मेरा कश्मीर नाजिम
जैसे युवानो के कारण स्वीट रिवोल्यूशन का
नेतृत्व कर रहा है बहुत-बहुत बधाई सर एक
गुजारिश है मेरी सर एक बार सर मैंने 2023
में केवीआईसी के डिपार्टमेंट में सर मैंने
वहां पर एक सेल्फी ली थी सेल्फी विथ मोदी
जी मगर आज मुझे जी चाहता है कि सर उस सपने
को भी मैं स्वीकार करू उसको भी पूरा कर
सकू चलिए मैं कोशिश करता हूं मैं एसपीजी
के लोगों को बोलता हूं बाद में आपको को इस
तरफ ले आएंगे जरूर मैं आपके साथ सेल्फी
लूंगा शुक्रिया सर थैंक यू सर थैंक यू
मोदी ने ना सिर्फ नाजिम की बातें सुनी
बल्कि रैली खत्म होने के बाद स्टेज पर
बुलाकर नाजिम के साथ सेल्फी भी ली मोदी का
यही पर्सनल टच उन्हें बाकी नेताओं से अलग
बनाता है और मोदी का वोट बढ़ाता
है एक सेल्फी रिक्वेस्ट किया और वो भी
उसने फुलफिल किया वो मुझे बहुत ही जॉय फुल
मोमेंट था कि अपने रेबल पीएम सर के साथ
मेरी सेल्फी हुई दैट वाज ब्यूटीफुल अब आप
समझ गए होंगे कि मोदी 14 में क्यों जीते
19 में क्यों जीते और 24 में भी मोदी की
जीत के संकेत क्यों मिल रहे हैं व इसलिए
मिल रहे हैं क्योंकि मोदी हर दिन अपना
परिवार बढ़ाते जा रहे हैं कश्मीर से
कन्याकुमारी तक हर तबके को अपने साथ
जोड़ते जा रहे
हैं कांग्रेस में आज टिकट का बंटवारा हो
रहा है कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता सेप
सीट ढूंढ रहे हैं कांग्रेस के दिग्गज माने
जाने वाले नेता चुनाव लड़ना ही नहीं चाहते
मध्य प्रदेश और राजस्थान के कई बड़े नेता
चुनाव से भाग रहे हैं वहीं बीजेपी में
कैंडिडेट की स्क्रीनिंग हो रही है सामने
वाला का जो पूरा बायोडाटा है वह चेक किया
जा रहा है कांग्रेस को कैंडिडेट नहीं मिल
रहे तो मोदी विरोधी कैंप में माहौल इस
वक्त कैसा हो गया है इस रिपोर्ट के जरिए
समझिए क्या एनडीए को चार सु पार जाने से
इंडि एलायंस रोक
पाएगा क्या यूपी में राहुल प्रियंका डिंपल
अखिलेश चुनाव हार रहे हैं क्या कांग्रेस
के दिग्गज नेता चुनाव मैदान से भाग रहे
हैं क्या 75 फीसद मुस्लिम आबादी वाली सीट
भी कांग्रेस हार रही
है चुनाव से 80 दिन पहले अखबारों की
हेडलाइंस क्या इशारा दे रही
हैं मोदी विरोधी नेता चुनाव लड़ना नहीं
चाहते क्या राहुल गांधी को खुद अपनी जीत
का भरोसा नहीं है इसीलिए व एक नहीं दो दो
सीट से चुनाव
लड़ेंगे कांग्रेस के खुर्रा नेताओं ने
अचानक क्यों चुनाव लड़ने से इंकार कर
दिया अशोक गहलोत दिग्विजय सिंह कमलनाथ ने
क्यों टिकट लेने से मना कर दिया इन्ह
राजस्थान और मध्य प्रदेश से क्या रिपोर्ट
मिली
है क्या छत्तीसगढ़ और कर्नाटक से भी वही
रिपोर्ट आई है जो राजस्थान और मध्य प्रदेश
से आई है दिल्ली में कांग्रेस चुनाव समिति
की बैठक में अचानक कई सीटों पर नाम बदलने
की नौबत क्यों आई कांग्रेस के दिग्गजों ने
टिकट लेने से मना कर हाई कमांड का संकट
क्यों बढ़ा
दिया कांग्रेस ने 12 राज्यों की करीब 100
सीटों पर मंथन कर टिकट फाइनल किए कांग्रेस
की लिस्ट में पूर्व मुख्यमंत्री जैसे कद
के बड़े नेताओं में सिर्फ भूपेश बघेल का
नाम दिखा जो राजनाथ गांव से चुनाव मैदान
में उतर सकते हैं जबकि दूसरे राज्यों से
कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों ने हार के डर से
किनारा कर
लिया कांग्रेस के दिग्गज क्यों मोदी के
कैंडिडेट के सामने चुनाव लड़ने से डर रहे
हैं इसका पूरा एनालिसिस करेंगे लेकिन पहले
बात बंगाल
की बंगाल में लोकसभा की 42 सीट हैं बीजेपी
ने 2019 में 18 और टीएम ने 22 सीट जीती थी
तब बीजेपी को 40.7 फीदी और टीएमसी को 43.3
फस वोट मिले
थे संदेश खाली में ममता के शाहजहां की
गिरफ्तारी के बाद बंगाल का चुनाव बहुत
तेजी के साथ ट्विस्ट ले रहा है महिलाएं
सड़क पर उतर रही हैं और दीदी के गुंडाराज
के खिलाफ खुलकर प्रोटेस्ट कर रही
हैं दीदी पूरी ताकत लगा रही है कि बीजेपी
का साथ दे रही महिला को संदेश खाली जाने
से रोका
जाए बंगाल के पलपल बदलते चुनाव को और आधी
आबादी के मूड को देखकर बीजेपी ने बंगाल
में नया टारगेट सेट किया
है बीजेपी इस बार बंगाल में 35 सीट जीतने
का लक्ष्य लेकर चल रही है सात मुस्लिम
बाहुल्य सीटों पर वोट शेयर बढ़ाने पर जोर
है पार्टी ने बंगाल में स्ट्राइक रेट
बढ़ाकर 85 फीसद कर दिया है
महिलाओं के आक्रोश को देखते हुए यह असंभव
नहीं
है इसीलिए दीदी को पहली बार डर लग रहा है
दीदी का य डर कितना बड़ा है इसकी तस्दीक
के तस्वीरें करती हैं जहां वह महिला
मोर्चा लेकर सड़क पर मार्च कर रही हैं यह
बंगाल की आने वाली 90 दिन की पिक्चर है
जहां संदेश खाली पर हर घंटे टक्कर हो रही
है ममता से बीजेपी अब उसी स्टाइल में लड़
रही है जिस स्टाइल में ममता लेफ्ट नेताओं
से लड़ती
थी कोई ऑर्डर नहीं कोई कागज नहीं पुलिस
जोर जबरदस्ती हम लोग को बाधा दे रहे हैं
ये राजर हट है यहां पर कोई एकस जरा नहीं
है संदेश कली है 7 किलोमीटर दूर आज हम लोग
को बाधा दिया जा रहा है क्यों क्या छुपाने
का कोशिश कर रहे हैं क्या है संदेश कली
में जो आप छुपाना चाहते हैं ममता बनर्जी
आपको हम वन करते हैं आप मुख्यमंत्री
रहेंगे तो हम बाधा दे सकते हैं हम लोग दो
दिन बाद फिर से जाएंगे सारे महिला को पता
चले कि हमारा मुख्यमंत्री हज रप 00 रुपया
लखर भंडार देकर बोलते हैं कि जाओ मनोरंजन
करो टीएमसी नेता मंत्री को सबको पता चलना
चाहिए सब महिला को और आज वो अंतरजातिक नरी
दिवस में रैली कर रहे क्या अंतरजातिक नारी
दिवस जहां पर हर पल महिला का दर्शन होता
है हम लोग का मूल्य है
00 हम लोग का इज्जत का मूल्य है
00 यह मुख्यमंत्री महिला मुख्यमंत्री को
मुख्यमंत्री रहने का कोई अधिकार
नहीं बंगाल में संदेश खाली का शोर जितना
बढ़ रहा है ममता की टेंशन भी उतनी ही बढ़
रही है मुसलमान वोट कांग्रेस और टीएमसी
में बट रहा है हिंदू और महिला वोट बीजेपी
के तरफ तेजी से शिफ्ट हो रहा
है महिलाओं के साथ सड़क पर उतरकर ममता
बनर्जी खेला करने की कोशिश कर रही
हैं लेकिन इस बार खेला चल नहीं रहा बंगाल
की महिलाएं संदेश खाली और शाहजहां के
मामले में बहुत गुस्से में है यह गुस्सा
चुनाव में ममता को बहुत भारी पड़ने वाला
है ूल कांग्रेस केस
लगाओ सीबीआई
लगाओ बंगाल की तरह बीजेपी ने महाराष्ट्र
में भी स्ट्राइक रेट बढ़ा दिया है
महाराष्ट्र में 48 सीट है जिसमें बीजेपी
गठबंधन 45 सीट जीतना चाहता है बीजेपी ने
महाराष्ट्र में स्ट्राइक रेट बढ़ाकर 92
फीस कर दिया
है इस टारगेट को पूरा करने के
लिए बीजेपी महाराष्ट्र की 32 सीटों पर
चुनाव लड़ सकती है शिवसेना सिंधे गुट पा
से छ और एनसीपी अजीत पंवार तीन से चार सीट
पर चुनाव लड़ सकते हैं सिंधे गुट और अजीत
गुट को दी गई कुछ सीटों पर बीजेपी के
सिंबल पर कैंडिडेट को चुनाव लड़ाने की
तैयारी
है शिवसेना सिंधे गुट की जिन सीटों पर
बीजेपी अपने कैंडिडेट उतार सकती है उनमें
मुंबई उत्तर पश्चिम नासिक यवतमाल वासिम
रामटेक मावल औरंगाबाद और परभणी हैं
शिवसेना सिंधे गुट को दक्षिण मुंबई थाणे
और सिंधुदुर्ग सीट दी जा सकती है एनसीपी
अजीत पवार गुट के खाते में रायगढ़ सिरूर
और बारामती सीट जानते हैं अमित शाह ने
महायुति के नेताओं को पूरा ब्लूप्रिंट थमा
दिया है कि कैसे 45 सीट जीतती है मित्रों
आपके सामने दो विक
अपने बेटे बेटी भतीज भतीज हों का कल्याण
करने वाला इंडिया एलायस और देश भक्तों की
टोली जैसा मोदी जी के नेतृत्व में एनडीए
का एलायंस भारतीय जनता पार्टी मुझे बताओ
युवा
साथियों सभी लोग वोट करने
जाएंगे कमल के निशान पर बटन
दबाए मोदी जी को 300 पार कराएंगे
महाराष्ट्र में 45 पार कराएंगे
देश में 400 पार कराएंगे
तो मेरे साथ दोनों हाथ
उठाइए 400 पार के विश्वास की मुट्ठी
बिच और प्रचंड आवाज से बोलिए भारत माता की
जय शरद पवार को बारामती का गढ़ हार जाने
का डर है जहां से उनकी बेटी सुप्रिया सूले
चुनाव लड़ती है
बारामती से शरद पवार छह बार चुनाव जीत
चुके हैं जबकि उनकी बेटी सुप्रिया सुले
लगातार तीन चुनाव जीतकर हैट्रिक बना चुकी
हैं हताशा में पवार अपने भतीजे को धमकी दे
रहे हैं कि छोडूंगा
नहीं

Leave a Comment