INDIA के आगे 4 राज्यों में भारी मुसीबत में BJP गुजरात में भी हो गया गठबंधन |

चश्मा यूसी में दोस्तों आपका स्वागत है
मैं हूं आपके साथ राशिद जहीर 3 दिन पहले
इंडिया गठबंधन को लगातार भारतीय जनता
पार्टी उनसे जुड़ा हुआ एनडीए जो भी किसी
शक्ल में भी है वह झटके पर झटके दे रहा था
वह वहां जब राहुल गांधी की यात्रा शुरू
हुई तो मुंबई से देवड़ा साहब सबसे पहले गए
सिंधे साहब की पार्टी में मम बंगाल आए तो
ममता बैनर्जी नाराज हो गई

आसाम के अंदर तो आपको मालूम है कि राहुल
गांधी ने खेला कर दिया था और उत्तर प्रदेश

लिया कि गेज रिवाइल भी जेल जा रहे हैं
अखिलेश यादव भी मना कर चुके हैं और इंडिया
गठबंधन जमी दोज हो गया और यह जिम्मेदारी
गोदी मीडिया ने इतनी बेहतरीन तरीके से

निर्वाहन की कि अगर वह वाकई जर्नलिज्म
किसी अच्छे वे में कर लेते जितनी ताकत
इसमें लगाई है तो देश के जर्नलिज्म को

जाती लेकिन पिछले तीन पहर
इसमें इंडिया गठबंधन ने हैट्रिक मार दीया
मैं आपको कहूं कि अखिलेश यादव से जैसे
शुरुआत हुई केजरीवाल की तरफ से एक ऐसा
बड़ा झटका भारतीय जनता पार्टी को लगा कई
प्रदेशों में गुजरात जिसको कहते हैं ना सब

कुछ चंगा सी है वहां पर भी केजरीवाल के
साथ जो कांग्रेस आई उतरने जा रही जमीन पर
भारतीय जनता पार्टी की नींद उड़ गई है
आपसे दिल्ली में बंटवारे की बात करूंगा तो
हरियाणा की बात भी बताऊंगा आपको पंजाब के
अंदर अंदर तो आप को मालूम है फ्रेंडली

फाइट पहले से तय है तो आम आदमी पार्टी ने
अखिलेश यादव के शुरुआत होते के साथ ही
ममता बनर्जी के भी सुर बदल रहे हैं लेकिन
मैं आपको बताना चाहता हूं कि दिल्ली की
मुस्लिम बहुल्य सीट कांग्रेस के खाते में
ऐसी हुई केजरीवाल के साथ चार राज्यों में
डील अब यह केजरीवाल जिसको जेल जाने की बात

बता रही थी आतिशी जी वाकई अगर ऐसा गठबंधन
को उनके सॉरी एनडीए को नुकसान पहुंचाएंगे
तो जेल तो जाओगे भाई आप अगर खाली हाथ आओगे
तो गब्बर क्या खुश होगा गब्बर तो नाराज हो
कर के ठी ठी कर देगा तेरा क्या होगा

खालिया मैंने आपको बताया था आपको पहले मैं
थोड़ा बता देता हूं कि आपने कांग्रेस के
साथ दिल्ली गुजरात गोवा हरियाणा और
चंडीगढ़ में सीटों को लेकर डील की वहीं
पंजाब में दोनों ही पार्टी अलग-अलग चुनाव
लड़ेंगी अखबार लिखता है कि 100 दिन से भी

कम का समय बचा है नरेंद्र मोदी के नेतृत्व
में बीजेपी की तैयारी अच्छी चल रही है
शुरुआती झटकों से लड़खड़ाते यह क्रिकेट की
बात चल रही है कि शुरुआती झटको से
लड़खड़ाते हुए टीम ने एक अच्छी साझेदारी
करते हुए जीत का मार्ग प्रशस्त किया
शुरुआती झटकों से लड़खड़ाते विपक्षी दलों

के इंडिया एलायंस में भी सीट शेयरिंग का
मुद्दा देर से सही लेकिन सुलता दिख रहा है
इसके दिल पर बड़ी बोझ है एनडीटीवी वाले के
लेकिन यह लिखना पड़ तो लिखना तो
पड़ेगा यूपी में बुधवार को कांग्रेस और

समाजवादी के बाद बीच में सीट शेयरिंग की
हो गई फाइनल अब दिल्ली में सात लोकसभा
सीटों को लेकर कांग्रेस के बीच डील फाइनल
होती दिख रही है चार और तीन का वहां पर
समीकरण बन गया है हरियाणा के अंदर भी
बताया जा रहा है कि दो सीटें शायद

कांग्रेस आई जो है केजरीवाल की पार्टी को
दे देगी अ अरविंद केजरीवाल कांग्रेस को
सीट शेयरिंग का नया फार्मूला दिया है
सूत्रों के मुताबिक दोनों दलों के बीच
दिल्ली में चार तीन का फार्मूला और सात

सीटें य पहले भारतीय जनता पार्टी ने जीतली
थी इस बार तीन या चार हारने के आसार दिखाई
दे रहे हैं और पश्चिमी उत्तर पर जो दिल्ली
की जो सीट वो दे दी गई है तीन राज्य कौन

से हैं एक दिल्ली गुजरात गोवा हरियाणा
चंडीगढ़ पंजाब में दो दोनों पार्टी
अलग-अलग चुनाव लड़ रही है और बिल्कुल सही
लड़ रही है वरना अकाली दल भारतीय जनता
पार्टी के साथ आ जाता वहां मुश्किलें पैदा

हो जाती अब ये फ्रेंडली फाइट वहां लड़ेंगे
जहां पर इनका मजबूत कैंडिडेट होगा वहां आम
आदमी पार्टी हल्की हो जाएगी और जहां आम
आदमी पार्टी का कैंडिडेट मजबूत होगा वहां
पर आप समझ लीजिए कांग्रेस का कैंडिडेट

सीट में उपचुनाव हुए थे वो जो वहां के
कांग्रेस आई के ही लोकसभा सांसद थे पिछली
राहुल गांधी की यात्रा में उनकी डेथ हो गई
थी यात्रा के दौरान तो उनकी पत्नी लड़ी थी
कांग्रेस से तो वहां आम आदमी पार्टी का
बंदा था रिंकू वो बाजी लेकर चला गया था
भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस देखते रह गई
थी तो इस तरह से सही रहत

है अब आप देखें अखबार लिखता है कि
कांग्रेस के खाते में तो चार सीटें आ गई
है दिल्ली की बात बता दी है मैंने आपको
दिल्ली गुजरात के अंदर भी दो सीटें उतारी
की उम्मीदवार एक तो वरिष्ठ नेता कांग्रेस

नेता है अहमद पटेल जो स्वर्गीय हो चुके
उनकी बेटी मुमताज पटेल चुनाव लड़ना चाहती
थी आपके विधायक चेतर वसावा की बढ़ती रोक
के चलते कांग्रेस ने यह सीट आपको देने का
फैसला कर दिया भरुच और एक शायद और है

भावनगर आप वसावा को भरोस से चुनाव लड़ाना
चाह रही है वन विभाग के केस में चलिए खैर
उनके पास कैंडिडेट है चंडीगढ़ सीट
कांग्रेस को क्योंकि वहां का मेयर तो बन
चुका है आपको मालूम है सुप्रीम कोर्ट के
इंटरफेरेंस से वहां यह हो रहा कि डील के

मुताबिक आम आदमी पर् आम आदमी पार्टी ने
चंडीगढ़ सीट कांग्रेस को दे दी है चंडीगढ़
में 2019 में में कांग्रेस के दूसरे नंबर
पर रहे थे कांग्रेस की मदद से आपका मेयर

है आपने साउथ गोवा की सीट आम आदमी पार्टी
ने सीट से उम्मीदवार का ऐलान किया था
लेकिन डील के मुताबिक आप कांग्रेस के लिए
यहां से अपना उम्मीदवार हटाए गी वहां

नॉर्थ गोवा से कौन चुनाव लड़ेगा अभी तय
नहीं है हरियाणा की एक सीट पर तो बात लगभग
हो चुकी है लेकिन शायद दो सीटें व मांग
रहे हैं वो लोग लेकिन एक सीट मिल जाएगी
गुरुग्राम या फरीदाबाद से अपने बंदे को आम
आदमी पार्टी उतार सकती है और पंजाब के

अंदर तो मैं आपको समीकरण बता चुका हूं यह
समीकरण ऐसा बनने जा रहा है कि केजरीवाल
जिनको जेल भेजने की तैयारी थी और दो बड़े
नेता तीन बड़े नेता उनके जेल में भी हैं

सबसे ज्यादा मुखरता से अपनी बात संजय सिंह
उठाते थे शानदार बात करते थे उनको भी जेल
डाल दिया गया उनके जो डिप्टी सीएम है वो
भी जेल में है और सतेंद्र जैन अब अब
केजरीवाल के बारे में भी मालूम नहीं अभी
20 दिन अधि है बाकी बचे हैं अधि सूचना
जारी होने में अगर कोई ऐसा फैसला जैसा कि

हो गया है लगभग लगभग होता तो हो सकता आम
आदमी पार्टी के केजरीवाल भी जेल चले जाए
चूंकि हेमंत सौरन को जेल डाल चुके हैं
दोस्तों आरोप साबित होते नहीं हैं यह पहले
जेल डाल देते हैं लेकिन हेमंत सौरन के

जाने से झारखंड में मालूम है क्या हो रहा
11 सीट इनके पास आई थी वहां आदिवासी भड़क
चुका है और इस बार पता चल जाएगा भारतीय
जनता पार्टी को कि आखिरकार वहां होने क्या
जा रहा है मुख्यमंत्री वहां पर जेल में है
आदिवासी जेल में जिनको बनाया गया है वह भी

आदिवासी जमात से आते हैं तो वहां के जो
लोकल वोट है वो भी भारतीय जनता पार्टी के
खिलाफ जा रहा है और आम आदमी पार्टी ने
इसके अंदर एक ऐसा तड़का लगा दिया है कि
गुजरात जिनको बिल्कुल सेफ समझते हैं वहां

पर भी आम आदमी पार्टी का कैंडिडेट जीत के
कग पे है कांग्रेस भी वहां झटका दे सकती
है दो चार सीट भी अगर वहां से निकाल दी गई
तो प्लस में होंगी यह वहां पर तो गुजरात
हो गया और यह तमाम मध्य प्रदेश है और
कर्नाटक है यहां भारतीय जनता पार्टी

बिल्कुल भी नुकसान बर्दाश्त करने की मैं
कह सकता हूं कि पोजीशन में नहीं है और
सबसे बड़ा नुकसान कर्नाटक में हो रहा है
डिप्टी सीएम व जैसे एक्टिव है मैंने ने
आपको कई बार बताया वहां पर भी आदिवासी का

सिद्ध रमैया बहुत अच्छा काम कर रहे हैं और
भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ व हवा बह रही
है तो इस बार वो 26 27 28 सीटें जो आई थी
वो नहीं आएंगी इस बार घट जाएंगी 1015
सीटें और तेलंगाना में भी चार सीटें वो भी
घटने के आसार है और अब ये हालात जो है ना

गुजरात में भी दो-तीन सीटें चार सीटें अगर
निकल आई तो ये 272 का आंकड़ा और 400
आंकड़े में तो बड़ा फर्क है भाई इसी वजह
से वो लोकल लेवल पर कभी ओम प्रकाश राजभर
को अपना फोटो खिंचा हैं
कभी वह जैन चौधरी को निकाल जाने की कोशिश

करते हैं क्योंकि उनको 272 दूर की कोड़
नजर आ रहा है यह तो गोदी मीडिया 400 सीटें
बता रही है वरना 400 सीट का तो उनके पास
कैंडिडेट भी ढंग के नहीं होंगे साउथ में
है ही नहीं कहीं आसाम के अंदर तो इस वक्त
मान लीजिएगा कि राहुल गांधी जब से वहां गए
हैं विश्वा की जमीन को खोद कर आ गए हैं

केरल में इनका कुछ नहीं रखा है और यह पूरा
जो पूर्वोत्तर राज्य है वहां पर कितनी
ज्यादा नफरत है भारतीय जनता पार्टी से मैत
समाज ककई समाज और जम्मू कश्मीर और पंजाब
कहीं पर भारतीय जनता पार्टी नहीं है यह
हिंदी बेल्ट है जो मजबूत है इसमें कोई

दोराय नहीं है यहां पर अब गठबंधन के जो
जितने भी यह लोग हो सकते हैं इन्होंने
सेंध लगाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं आम

आदमी पार्टी का समीकरण मैंने आपको बताया
आपको खबर कैसी लगी अपनी राय कमेंट्स बॉक्स
में जरूर दीजिएगा चैनल को सब्सक्राइब

कीजिएगा शेयर कीजिएगा नेक्स्ट टाइम में
किसी खबर के साथ हाजिर होता हूं जय हिंद

Leave a Comment