INDIA गठबंधन के बंटवारे पर Akhilesh Yadav और Dimple Yadav ने क्या कहा?

आखिरकार यूपी में इंडिया गठबंधन कामयाब
रहा और यहां कांग्रेस और समाजवादी पार्टी
के बीच में सीटों का बंटवारा हो गया है
कांग्रेस यूपी की 17 लोकसभा सीटों पर
चुनाव लड़ेगी वहीं शेष 63 सीटों पर

समाजवादी पार्टी और अन्य सहयोगी दल चुनावी
मैदान में होंगे इससे पहले अखिलेश यादव ने
अंत भला सब भला कहकर इसकी तस्दीक कर दी थी
और शाम होते होते इसका बंटवारा भी औपचारिक
तौर पर घोषित कर दिया गया सूत्रों के

मुताबिक प्रियंका गांधी वाडरा ने यूपी में
सीटों के बंटवारे को लेकर अखिलेश यादव से
बातचीत की और दोनों पक्षों को मना लिया
अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी कुल 80
सीटों में से 63 सीटों पर चुनाव लड़ेगी 17
सीटें कांग्रेस के लिए दी गई हैं सूत्र यह

भी बताते हैं कि कांग्रेस पार्टी
मुरादाबाद सीट छोड़ने को सहमत हो गई है
इसके बदले में समाजवादी पार्टी वाराणसी से
अपना उम्मीदवार वापस ले सकती है इसके
अलावा घोषित प्रत्याशियों की सूची में भी

बड़ा बदलाव हो सकता है इस गठबंधन के
औपचारिक ऐलान के बाद समाजवादी पार्टी
अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि सौभाग
पूर्ण गठबंधन की सबको बधाई और हार्दिक
शुभकामनाएं बाबा भीमराव अंबेडकर जी का
संविधान बचाने के लिए लोहिया जी के

संख्यान पातिक हिस्सेदारी के सिद्धांत को
अमल में लाने के लिए समाजवादी मूल्यों को
सक्रिय करके बराबरी लाने के लिए 90 पर
पीडीए को उनका हक दिल ने के लिए और देश की
तरक्की के लिए एक हो जाए वहीं अखिलेश यादव
की सांसद पत्नी डिंपल यादव ने भी गठबंधन
को बधाई देते हुए बड़ा दावा किया है

समाजवादी पार्टी शुरू से ही चाह रही थी
गठबंधन हो लेकिन थोड़ी देरी हुई है
क्योंकि हमारे यहां पर सामने भाजपा खड़ी
है लेकिन इस बात की मैं सभी समाजवादी

बधाई देना चाहती हूं कि गठबंधन आखिरकार
अपने डेस्टिनेशन पर पहुंच गया है और आप
देखेंगे कि इसके परिणाम बहुत
ही बहुत ही अच्छे होंगे और सब लोगों का

समर्थन मिलेगा क्योंकि आज जो है हमारे जो
चार स्तंभ जो आप भाजपा कह रहे हैं कि
हमारे युवा है हमारी नारी है हमारी किसान
है और हमारे जवान है तो इन चार स्तम पूरी
तरह से आक्रोशित भी है दुखी भी है निराशा
निराशा में भी है और मुझे पूरा भरोसा है

कि आने वाले चुनाव में लोग आपको भाजपा के
साथ तो दिखाई देंगे लेकिन वोट व गठबंधन को
ही करने जा रहे हैं आज संयुक्त प्रेस
कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के प्रभारी और

प्रदेश अध्यक्ष आए वहीं समाजवादी पार्टी
की तरफ से पूर्व मंत्री और मौजूदा प्रदेश
अध्यक्ष टेबल पर आए सभी ने मिलकर इस
गठबंधन की सीटों का ऐलान कर दिया पहले
अखिलेश यादव ने राहुल गांधी की न्याय

यात्रा में शामिल होने की बात कही थी
लेकिन तीन दिन की डेडलाइन देने के बाद
उन्होंने इस यात्रा में शामिल होने से
इंकार कर दिया था अखिलेश यादव ने साफ कहा
था कि जब तक सीटों का बटवारा नहीं होगा तब
तक वह न्याय यात्रा और कांग्रेस पार्टी के

साथ मंच साझ नहीं करेंगे लेकिन अब देखना
है कि लोकसभा के प्रचार में दोनों साथ आते
हैं या नहीं या फिर दोनों नेता अलग-अलग और
अपनी अपनी पार्टी के लिए वोट मांगेंगे इस
खबर में फिलहाल इतना ही अपडेट्स के लिए
बने रहिए वन इंडिया हिंदी के
साथ

Leave a Comment