JP Nadda ने अभी-अभी राज्यसभा से दिया इस्तीफा

नमस्कार आपके साथ मैं हूं रोहित कुमार आप
न्यूज़ फ नेशन पर धीरे-धीरे करके वह नजदीक
घड़ी आ रही है जब देश में आम चुनाव की
घोषणा होने जा रही है और तमाम पार्टियां
अपने-अपने हिसाब से जो है तैयारियों में
लग गई हैं ऐसे में बीजेपी के राष्ट्रीय

अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इस्तीफा दे दिया है
दरअसल जानकारी के मुताबिक जेपी नड्डा ने
राज्यसभा के सदस्यता से इस्तीफा दिया है
सूत्रों के सेमिल जानकारी के मुताबिक जेपी
नड्डा लोकसभा का चुनाव लड़ सकते हैं ऐसी
खबरें सामने आ रही हैं आपको बता दें कि
जेपी नड्डा इस वक्त बीजेपी के राष्ट्रीय

अध्यक्ष के तौर पर हैं अमित शाह के बाद
जीपी नड्डा को बीजेपी का राष्ट्रीय
अध्यक्ष बनाया गया है और अभी जो बीजेपी की
तरफ से जो

195 प्रत्याशियों की जो सूची जारी की गई
है उस सूची को जारी करने में जो मंथन का
काम था अमि शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र
मोदी के साथ जेपी नड्डा ने ही किया था

आपको बता दें कि क्योंकि अब वो चुनाव
लड़ेंगे कहां से इन तमाम चीजों पर फिलहाल
जो है तस्वीर साफ तो नहीं हो पाई है लेकिन
जेपी नड्डा ने अचानक से इस्तीफा दिया है

और इसको लेकर के जो है जानकारी भी व जो है
वह सामने आ गई है भारतीय जनता पार्टी के
राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने राज्यसभा

की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है जेपी
नड्डा 13 दिन पहले 20 फरवरी को ही गुजरात
से निर्विरोध राज्यसभा सदस्य चुने गए थे
लेकिन वह अब तक हिमाचल प्रदेश से राज्यसभा
सदस्य थे उनका टर्म अगले महीने खत्म होना
था लेकिन नियम के तहत अगर कोई सदस्य दूसरी
सीट से चुन लिया जाता है तो 14 दिन के

अंदर उन्हीं पुरानी सीट से इस्तीफा देना
पड़ता है इसलिए नड्डा ने हिमाचल प्रदेश
सीट से इस्तीफा दिया जेपी नड्डा ने अपने
राजनीतिक करियर की शुरुआत छात्र नेता के
रूप में की थी छात्र नड्डा को राज्य और
केंद्रीय संगठन में काम करने का लंबा

अनुभव भी है जून 2019 में नड्डा को भारतीय
जनता पार्टी का राष्ट्रीय कार्यकारी
अध्यक्ष और फिर जनवरी 2020 में भारतीय
जनता पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष चुन
लिया गया हाल ही में बीजेपी ने जगत प्रकाश
नड्डा यानी कि जीपी नड्डा के कार्यकाल को
एक साल के लिए बढ़ा दिया अब वह साल 2024
के जून महीने तक बीजेपी के राष्ट्रीय

अध्यक्ष के पद पर बने रहेंगे राज्यसभा की
तरफ से जारी किए गए बुलेटिन में लिखा गया
है कि श्री जगत प्रकाश नड्डा एन इलेक्टेड
मेंबर ऑफ द काउंसिल ऑफ स्टेट्स राज्यसभा
रिप्रेजेंटेटिव द स्टेट ऑफ हिमाचल प्रदेश

रिजाइनिंग हिज सीट इन द राज्यसभा एंड हिज
नेशन हैज बीन एक्सेप्टेड बाय द चेयरमैन
राज्यसभा यह 4 तारीख की को जो बुलेटिन है
वो जारी किया गया है आपको बता दें कि मूल
रूप से हिमाचल प्रदेश के रहने वाले जीपी
नड्डा का जन्म बिहार की राजधानी पटना में

2 दिसंबर 1960 को हुआ था पटना
विश्वविद्यालय से बीए करने के बाद हिमाचल
प्रदेश विश्वविद्यालय से एलएलबी की पढ़ाई
की इस दौरान उन्होंने जयप्रकाश नारायण के
वि
आंदोलनों में सकता से हिस्सा लिया इसके
अलावा जीपी नड्डा अखिल भारतीय विद्यार्थी
परिषद यानी कि एवीपी से जुड़े रहे और साल

1989 में एवीपी के राष्ट्रीय मंत्री चुन
लिए गए साल 1991 में भारतीय जनता युवा
मोर्चा के अध्यक्ष बनाए गए और उसके बाद से
लगातार 1993 में पहली बार हिमाचल प्रदेश
विधानसभा में विधायक बने और नेता
प्रतिपक्ष चुने गए साल 1998 में दोबारा

चुनाव जीते और बीजेपी सरकार में स्वास्थ्य
मंत्री बने साल 2010 में भारतीय जनता
पार्टी के राष्ट्रीय महामंत्री बनाए गए
साल 2012 में राज्यसभा सभा सदस्य के रूप
में चुने गए साल 2014 से 2019 तक भारतीय
भारत सरकार में स्वास्थ्य एवं परिवार

कल्याण मंत्रालय की कमांड उन्होंने संभाली
तो जे जो जेपी नड्डा हैं उनको ब जो है अ
क्योंकि जिस तरीके का उन्होंने अपना पूरा
करियर बीजेपी के लिए समर्पित किया है उसके
बाद लगातार जब से नरेंद्र मोदी की केंद्र

में सरकार आए उसके बाद जीपी नड्डा को कोई
ना कोई बड़ी जिम्मेवारी मिलती रही है बड़ी
बात यह है कि जीपी नड्डा क्योंकि हिमाचल
प्रदेश से राज्यसभा के सदस्य हैं ऐसे में
उनको उस सीट से इस्तीफा देना जरूरी था
लिहाजा उन्होंने इस्तीफा दिया है ताकि जो
निर्विरोध वह गुजरात से जब जब व जीत करके

आए हैं तो उस सीट पर वह शपथ ले पाए तो यह
पूरी खबर थी जपें डा को लेकर के फिलहाल इस
खबर में इतना ही देखते न्यूज़ फाशन
नमस्कार

Leave a Comment