Kalki धाम मंदिर के मॉडल का अनावरण करेंगे PM Modi, नवभारत पर सुनिए Pramod Krishnam ने क्या कहा?

और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज यूपी के
दौरे पर रहने वाले हैं आज सुबह के वक्त
बताया जा रहा है प्रधानमंत्री नरेंद्र
मोदी संबल में मौजूद रहेंगे और वहां कल्की

धाम का शिलान्यास करने वाले हैं और इसके
अलावा इस दौरान आचार्य प्रमोद कृष्णम के
साथ-साथ सीएम योगी आदित्यनाथ पंडित
धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री और हजारों की
गिनती में साधु संत भी मौजूद

रहेंगे पीएम मोदी आज उत्तर प्रदेश के एक
दिवसीय दौरे पर रहेंगे इस दौरान वो संभल
जिले में श्री कल्कि धाम मंदिर की आधार
शिला रखेंगे इस दौरान पीएम मोदी एक जनसभा
को भी संबोधित

करेंगे बड़े सौभाग्य का विषय है कि भारत
के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र भाई
मोदी जी के कर कमलों द्वारा हो रहा है
श्री कल्की धाम अ पूरी दुनिया में एक ऐसा
धाम है जो भगवान के अवतार से पहले बन रहा
है पहले स्थापित हो रहा है पूरी दुनिया
में जितने धाम है वो तब बने हैं तब

स्थापित हुए जब भगवान आया आने के बाद ये
शिकल की धाम ऐसा धाम है
भगवान विष्णु के दसव अवतार श्री कल्की
नारायण भगवान के अवतार होने से पूर्व बन

रहा है पूर्व स्थापित हो रहा है इस दौरान
कल्की धाम पीठाधीश्वर आचार्य प्रमोद
कृष्णम आचार्य धीरेंद्र शास्त्री समेत
हजारों संत समाज के लोग मौजूद रहेंगे यूपी
के सीएम योगी आदित्यनाथ भी इस कार्यक्रम
में मौजूद रहेंगे मंदिर का निर्माण श्री
कलकी धाम निर्माण ट्रस्ट करवा रहा है
जिसके अध्यक्ष आचार्य प्रमोद कृष्णम

है पीएम मोदी सुबह करीब 10:30 बजे श्री
कल्क धाम मंदिर का शिलान्यास करेंगे इस
दौरान पीएम मोदी श्री कल्क धाम मंदिर के
मॉडल का अनावरण करने के साथ साथ जनसभा को
भी संबोधित करेंगे पीएम मोदी के दौरे को

लेकर लगभग सभी तैयारियां पूरी कर ली गई
हैं सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं
भारी पुलिस फोर्स की तैनाती के साथ-साथ
हेलीकॉप्टर से भी सभा स्थल और कार्यक्रम
वाली जगह की निगरानी की जा रही
[संगीत]

हैं कितनी एकड़ में ये बना है कितना भव्य
ये बनेगा बिल्कुल पौराणिक महत्व इसका क्या
है सब कुछ बताया है आचार्य प्रमोद कृष्णम
ने बात की हमारे सहयोगी आकांक्षा खजूरिया
ने देखिए जरा ये सनातन के गौरव का विषय है

भारत के लिए अद्भुत पल
है भगवान के होने वाले अवतार का धाम और
उसकी आधार शिरा रखने के लिए भारत के
प्रधानमंत्री आ रहे हैं श्री कल्की अवतार

पुराणों में यह लिखा है कि कलयुग में
भगवान श्री कल्की के रूप में अवतार लेंगे
तो जहां भगवान अवतार लेंगे उस धरती पर ही
उनके अवतार से पहले भगवान का धाम बन रहा
है और उस धाम की आधार शिला रखने के लिए
भारत के प्रधानमंत्री आ रहे हैं और उस

शिलान्यास समारोह की सफलता के लिए और
भविष्य
के विषय में में जो शब्दों का प्रयोग करते
हुए जिन भावनाओं की अभिव्यक्ति भारत की
राष्ट्रपति आदरणीय द्रौपदी मुरमू जी

द्वारा भेजे गए पत्र में हो रही है उससे
मैं बड़ा आनंदित हूं पूरा संत समाज
गौरवान्वित है के इस देश
को एक ऐसी राष्ट्रपति मिली हैं जो देश के
जनमानस की भावनाओं का सम्मान करती हैं और
एक ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जो इस देश को
भारत को पुनः विश्व गुरु बनाने की दिशा
में चल दिया है सर हम पीछे देख पा रहे हैं

कि ये 3डी मॉडल है जो मंदिर बनने वाला है
कितने सालों में ये मंदिर बनेगा कितने
एकड़ लैंड में ये बनेगा और क्या कुछ उसकी
खासियत रहेगी श्री कल्की धाम का जो भवन है

वो लगभग पाच एकड़ में बन कर के तैयार होगा
और इसको बनाने की जो अवधि बताई गई है वह
लगभग साढ़े साल से 5 साल है यह राजस्थान
के गुलाबी पत्थर से निर्मित
होगा जिस पत्थर से सोमनाथ का मंदिर बना

जिस पत्थर से भगवान श्री राम की जन्मभूमि
का मंदिर बना है इसका जो शिखर होगा वह 108
फीट ऊंचा होगा य जो शिखर है य 108 फीट
ऊंचा होगा और इसका जोय चबूतरा है जो इसका

बेस है य 11 फीट ऊंचा होगा इसके मध्य में
शिवलिंग स्थापित होगा क्योंकि पुराणों में
ऐसा लिखा है कि भगवान जहां
आएंगे उस स्थान को संभल के नाम से जाना
जाएगा और यह जो संभल है यह पुराणों में को
संभल कहा गया है संभल संभल शंभू से बना है
संभले शवर महादेव संभल से संभल तो यह जो
मुगलिया पीरियड

आया जब हमारे देश पर विदेशी हुक्मरानों ने
हुकूमत की तो संभल से इसको संभल कर दिया
गया पुराणों में यह भी लिखा है कि इस
स्थान को सतयुग में सतवत के नाम से जाना

जाएगा त्रेता युग जब आएगा तो इसको महद
गिरी के नाम से जाना जाएगा फिर द्वापर युग
में इसको पिंगल दीप के नाम से जानेंगे और
जब कलयुग आएगा तो इसको संभल के नाम से

जाना जाएगा इसी संभल में भगवान का अंतिम
अवतार दसवा अवतार जिसे हम निष्कलंक अवतार
भी कहेंगे श्री कल्की अवतार इसी संभल नामक
स्थान पर 24 कोश की परिधि में अवतार लेगा
श्रीमद् भागवत का एक श्लोक है जिसमें यह
मेंशन है कि संभल ग्राम मुख्य ब्राह्मण

महात्म संभल ग्राम मुख्य ब्राह्मण महात्मा
भवनेश कलक प्रादुर्भाव शति तो जिस संभल
में भगवान आएगा ऐसा पुराणों में लिखा है
उनके अवतार से पहले ये दुनिया का पहला ऐसा

धाम है जो भगवान के अवतार से पहले स्थापित
होरहा
है सं

Leave a Comment