MP News : Rahul Gandhi के साथ दिखेंगे कमलनाथ, पूर्व CM ने Bharat Jodo Nyay Yatra के लिए बनाई रणनीति

इंडिया अब जरा रुख करते हैं मध्य प्रदेश
का जहां से बड़ी खबर आ रही है मध्य प्रदेश
में राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय

यात्रा में कमलनाथ शामिल होंगे कमलनाथ के
बीजेपी में जाने की अटकलों पर विराम लगने
के बाद अब कमलनाथ मध्य प्रदेश में भारत
जोड़ो न्याय यात्रा में शामिल होने वाले

हैं भोपाल में राहुल गांधी की यात्रा की
तैयारियों के लिए हुई बैठक में कमलनाथ
ऑनलाइन शामिल हुए उन्होंने ऑनलाइन शिरकत
की कमलनाथ ने बैठक में कहा कि वो पूरे
वक्त राहुल गांधी की यात्रा में मौजूद

रहेंगे इस यात्रा में कमलनाथ ने खास तौर
पर हर काम के लिए अलग-अलग प्रभारी बनाए
जाने पर जोर भी दिया राहुल गांधी की भारत
जोड़ो न्याय यात्रा मध्य प्रदेश में 2

मार्च से 6 मार्च तक निकलेगी यानी तमाम
अटकलों को एक तरह से विराम दिया था पहले
कमलनाथ ने उनकी अटकलें ये थी उनको लेकर कि
वह बीजेपी में जा सकते हैं लेकिन अब
बेंगलुरु चले गए थे अपने गुरु से मिलने के
लिए वापस लौटे हैं और जो तैयारियां हो रही

हैं उसमें कुछ सुझाव भी उनकी तरफ से दिए
गए हैं और ऑनलाइन वो जुड़े थे जो बैठक चल
रही थी यानी किस तरह की तैयारी होंगी जब
राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा
पहुंचेगी मध्य प्रदेश तो उसमें अब पूरी

तरह से इंटरेस्ट दिखा रहे हैं यह भारत
जोड़ो न्याय यात्रा मध्य प्रदेश में 2
मार्च से 6 मार्च तक के बीच में निकलेगी
तो जो ऑनलाइन बैठक में मौजूद रहे कमलनाथ

उन्होंने कुछ सुझाव भी दिए और अब जो
तैयारियां चल रही है उसको लेकर बाकायदा वो
उसमें इंटरेस्ट दिखा रहे हैं और उन्होंने
यह ऐलान कर दिया है कि राहुल गांधी के साथ
पूरे वक्त तक जब तक यह यात्रा मध्य प्रदेश
में रहेगी वो रहने वाले

हैं मनोज शर्मा मेरे सहयोगी इस वक्त जुड़
रहे हैं मनोज जो यह अटकले थी उस पर तो
विराम लग गया और अब बहुत ज्यादा इंटरेस्ट
दिखा रहे हैं यानी ये जो यात्रा जब तक
मध्य प्रदेश में रहेगी राहुल गांधी रहेंगे

वो साथ रहने वाले हैं और वो सुझाव भी दे
रहे हैं बाकायदा सर वाकई पंकज एकदम सही कह
रहे हैं आप क्योंकि मध्य प्रदेश की
राजनीति के हिसाब से मध्य प्रदेश का
हिंदुस्तान की कांग्रेस की राजनीति के
हिसाब से बहुत अहम घटनाक्रम है क्योंकि

जिस तरह से लगातार अटकले चली और जिस तरह
से चुपकी शादी थी और कमलनाथ ने जिस तरह के
जवाब जब उस वक्त दिए थे कि क्या वो बीजेपी
में जा रहे हैं और इस बात को लगभग सभी
मानने लगे थे कि कमलनाथ अपने बेटे नकुलनाथ

के साथ बीजेपी में जाने वाले लेकिन
उन्होंने खुद अटकलों को पराम लगाया और
उसके बाद अभी मनोज आप तो चकि मध्य प्रदेश
की राजनीति को बहुत बखूबी समझते हैं रूठे
क्यों थे और मान कैसे गए क्या कुछ नहीं

दिया गया कमलनाथ को मंत्री रहे जब जब
सरकार रही केंद्र में मंत्री रहे
मुख्यमंत्री बने और इस बार चुनाव हारे थे
तो कहीं ना कहीं कोई डिसीजन तो लेती है
पार्टी जो आपने कहा ना बिल्कुल सही है यही

बात दिग्विजय सिंह ने कही थी कि कांग्रेस
पार्टी ने कमलनाथ को क्या नहीं दिया जनरल
महासचिव से लेकर मुख्यमंत्री से लेकर और
पार्टी ने केंद्रीय मंत्री बनाया तो ऐसी

कोई चीज नहीं थी पार्टी के अंदर ऐसा कोई
पद नहीं था जिसपे कमलनाथ काबल ना हुए हो
तो जाहिर तौर पर जो अगर रूठने की बात आएगी
तो वो चुनाव के लिहाज से ही था कि
चिंदवाड़ा में चुनाव कैसे पार्टी जीतेगी

तो दो से 6 मार्च तक जब यह भारत जोड़
न्याय यात्रा मध्य प्रदेश में होने वाली
है उसमें पूरी मौजूदगी रहेगी कमलनाथ की इस
बात का उन्होंने ऐलान भी कर
दिया

Leave a Comment