Pakistan के बाद Maldives को China ने दिया धोखा, IMF ने दी Warning!

मालदीव की हालत इन दिनों पाकिस्तान से भी
बदतर हो चुकी भारत से पंगा और मुजू सरकार
के दांव पेच के चलते पूरा देश दिवालिया
होने की राह पर खड़ा हो चुका है देखा जाए

तो मालदीव इन दिनों एक गंभीर आर्थिक
चुनौती का सामना कर रहा है ऊपर से चीन का
भी उस पर 3 बिलियन डॉलर से ज्यादा का कर्ज

है और तो और भारत के साथ संबंधों में खटास
की वजह से उसकी टूरिज्म इंडस्ट्री को भी
काफी नुकसान हुआ है जो पर्यटक भारत से
मालदीव जाया करते थे वह अब दूसरे देशों को
एक विकल्प के तौर पर देख रहे हैं वहीं

मालदीव के राष्ट्रपति मोहम्मद मुजू वितीय
सहायता के लिए चीन पर भरोसा जता रहे हैं
क्योंकि मुजू चीन समर्थक हैं और चीन के
भरोसे ही वह अपनी सरकार भी चला रही जिस
तरह से उन्होंने अपने रिश्ते भारत से

बिगाड़े वह देखकर यह साफ पता चल रहा कि
मालदीव में चीन किस तरह खुस चुका है
हालांकि इसका असर अब दिखना शुरू हो चुका
है देश के बढ़ते कर्ज के संबंध में
अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोश यानी कि आईएमएफ

की चेतावनी आं यह बता रही हैं कि देश
कितना गर्क में जा चुका है संभावित आर्थिक
संकट यह इशारा कर रही है कि देश दिवालिया
होने की राह पर है वैसे मुजू की सरकार में
आने से पहले भारत और मालदीव के संबंध बहुत
मजबूत थे भारत कई सालों से विकास और

मानवीय सहायता में मालदीव को मदद करने
वाला एक प्रमुख सहयोगी था भारत ने समय-समय
पर मालदीव की मदद की मगर वक्त बदल चुका है
मालदीव ने खुद अपने पैरों पर कुल्हाड़ी
मारी और आज मालदीव पर चीन ज्यादा हक जता
रहा है मालदीव बुरी तरह से चीन की जाल में

फंस चुका है बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव के
माध्यम से चीन ने मालदीव को अपने रिड जाल

में फंसा लिया है हिंद महासागर में भी चीन
एक्टिव हो गया है मालदीप में जिस तरह से
चीनी निवेश बढ़ रहा यह उसके लिए अच्छे
संकेत नहीं है अब देखा जाए तो आर्थिक
सहायता और रक्षा सहयोग के माध्यम से भारत
का लक्ष्य चीन की बढ़ती चाल को रोकना है
मगर मोजू सरकार के रहते यह काम थोड़ा

पेचीदा है चीन के भारी कर्ज के कारण
मालदीव पहले से ही बर्बाद होने की कग पर
और बाकी बचा कुचा काम मोजू सरकार कर रही
भारत की नेबर फर्स्ट नीति मालदीव के विकास
और संप्रभुता का समर्थन करने की उसकी

प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है मगर इस
बात को भी नहीं नकारा जा सकता कि जो
चेतावनी आईएमएफ ने दी वह मालदीव के लिए
चिंता की बात तो है ही मगर साथ ही साथ
भारत के लिए भी यह एक बड़ा विषय है मालदीव

की मदद से ही भारत ने कई मौकों पर चीन के
दांव को खराब किया है और अगर चीन की जाल
में मालदीव बर्बाद हुआ तो हिंद महासागर
वाले क्षेत्र में भारत के लिए भी खतरा
बढ़ेगा ब्यूरो रिपोर्ट भारत

तक

Leave a Comment