Tejashwi Yadav के Style में Nitish Kumar ने दिया जवाब, अब क्या बोलेंगे RJ

177 साल बनाम 17 महीना इसका जवाब दिया है
नितीश कुमार ने तेजस्वी को नमस्कार मैं
श्वेता और आप देख रहे हैं न्यूज फाउंडेशन
तेजस्वी यादव जन विश्वास यात्रा पर निकले
तो इस यात्रा में एक सुर जो है वह चारों

तरफ सुनाई दी और वह सुर था 17 साल बनाम 17
महीना 17 साल में मुख्यमंत्री नितीश कुमार
ने जो नहीं किया तस्वी यादव ने वो 17
महीने में कर दिखाया अब इसका जवाब नीतीश
कुमार ने भी दिया है यानी कि जदू ने भी
दिया है बिहार की राजधानी पटना में
बड़े-बड़े पोस्टर लगा दिए गए हैं और

पोस्टर के जरिए तेजस्वी यादव को यह जवाब
दिए गए हैं जन विश्वास रैली का आयोजन कर
लालू यादव की पार्टी राजत और महागठबंधन के
सहयोगी दलों ने बिहार में लोकसभा चुनाव
2024 का शंखनाद रविवार को कर दिया तेजस्वी
यादव ने 17 महीने के कार्यकाल में द गई

सरकारी नौकरी को लेकर आरजेडी चुनाव मैदान
में उतरी सरकारी नौकरियों के क्रेडिट की
होड़ मच गई जन विश्वास यात्रा से जन
विश्वास रैली तक तेजस्वी यादव ने 17 साल
बनाम 17 महीने का नारा दिया तो नितीश
कुमार की पार्टी जदयू ने पोस्टर के जरिए
तेजस्वी यादव को जवाब दिया है सोमवार को
पटना के जदयू कार्यालय में एक बड़ा सा
पोस्टर लगाया गया पोस्टर में नीतीश कुमार
की तस्वीर है और उसमें लिखा है रोजगार
मतलब नीतीश कुमार

इससे पहले भी जदी और बीजेपी नेता कहते आ
रहे हैं कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में
सरकार चल रही थी तेजस्वी यादव ने कैसे
नौकरी दे दी लेकिन जिलों के दौरे दौरे पर
हर रविवार को पटना के गांधी मैदान में जन
विश्वास महारैली का आयोजन किया गया उसमें
तज स्वी यादव ने रोजगार पर नीतीश कुमार को

आड़े हाथों लिया तेजस्वी ने दावा किया
कांग्रेस नेता राहुल गांधी मल्लिकार्जुन
खड़गे समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय

अध्यक्ष अखिलेश यादव सीपीआईएम के सीताराम
चूरी समेत भाषण करने वाले भी नेता नेताओ
ने समर्थक देकर बल प्रदान किया पिता लालू
यादव भाई तेज प्रताप यादव ने तो तेजस्वी

की तारीफ में जमकर कशीद कर दी श्वी यादव
ने अपनी पार्टी आरजेडी का नया परिभाषा भी
साझा किया है आर मतलब राइट्स यानी कि
अधिकार जे मतलब जॉब यानी कि रोजगार नौकरी
और डी मतलब डेवलपमेंट यानी कि विकास कुलका
कुल मिलाकर बिहार में दी गई सरकारी नौकरी
को तेजस्वी यादव अपने खाते में समेटना

चाहते हैं जदी और बीजेपी य क्रेडिट नीतीश
कुमार को देना चाती है एनडीए की सरकार
बनने के बाद बिहार में नियुक्ति पत्र
बांटे गए हैं शिक्षा विभाग में बी पीएसी

द्वारा दो वैकेंसी निकाली गई है अब एनडीए
का कहना है कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में
सरकार को रणनीति तय करती है उस पर काम
करते हुए बेरोजगारों को नौकरी और रोजगार
दिया जाता है इसमें तेजस्वी यादव का कोई

नौकरी की क्रेडिट लेने की होड़ मची है फिर
वह बीजेपी हो एनडीए हो जदयू हो आरजेडी हो
या पूरी की पूरी महागठबंधन की सरकार हो हर
कोई क्रेडिट लेना चाहता है क्रेडिट की
होड़ इस कदर मची है कि बड़े-बड़े पोस्टर
बैनर निकाले जा रहे हैं महारैली जो आयोजित
की जाती है उस महारैली में यह

शब्द 17 महीने में हमने इतने रोजगार दिए
हैं जितना नीतीश कुमार ने 17 साल में नहीं
दिए हैं अब इस चीज को लेकर जदयू ने
तेजस्वी यादव को करारा जवाब दिया है और
बड़े पोस्टर से लगा लिखा है कि नितीश
कुमार मतलब रोजगार अब देखना होगा कि इसका
आरजेडी किस तरीके से जवाब देती है फिलहाल
के लिए इस खबर में इतना
ही

Leave a Comment